Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

0
163
उमरिया (संवाद)। मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में बेलगाम अधिकारियों का कारनामा लगातार सामने आ रहे हैं इस बार एक किसान के साथ तहसीलदार के द्वारा एसडीएम के चेंबर में बंद करके मारपीट की गई है। इसके बाद किसान को बेहोशी की हालत में मानपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। किसान के साथ हुई मारपीट के पीछे उसकी जमीन का सीमांकन नहीं होने के कारण उसने तहसीलदार की शिकायत सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 में दर्ज कराई थी। इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो भी बनाया गया है जो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है।

Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

वायरल वीडियो और अस्पताल में भर्ती किसान ग्राम सुखदास निवासी सूखी लाल साहू  के द्वारा आरोप लगाया गया कि उसके द्वारा अपनी जमीन का सीमांकन और नामांतरण की अर्जी मानपुर तहसील में पेश किया था, जिसके निराकरण के लिए किसान से 10 हजार की रिश्वत की मांगी गई थी। किसान के द्वारा रिश्वत नहीं देने के कारण उसका नामांतरण आवेदन खारिज कर दिया गया था। आवेदन खारिज होने के बाद किसान सूखी लाल साहू के द्वारा मामले की शिकायत सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 में कर दी गई। इसी बात से नाराज होकर मानपुर तहसील के नायब तहसीलदार रविंद्र पटेल ने किसान को एसडीएम कार्यालय में बंद करके मारपीट की है।

Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

किसान ने आरोप लगाया और वायरल वीडियो में भी देखा जा सकता है कि किस कदर तहसीलदार किसान सूखी लाल साहू पर गुस्सा झाड़ रहे हैं। किसान सूखी लाल साहू ने बताया कि सीएम हेल्पलाइन 181 में मेरे द्वारा की गई शिकायत को कटवाने के लिए तहसीलदार के द्वारा मेरा जबरन मोबाइल छीन लिया गया और स्वयं शिकायत को कटवा दिया गया एक घंटे बाद बाबू के माध्यम से मेरा मोबाइल वापस कराया गया है। उसके द्वारा इस बात के विरोध किए जाने पर तहसीलदार उसे जबरन पकड़कर एसडीएम कार्यालय के अंदर ले गया और कमरे में बंद करके उसके साथ बेतहाशा मारपीट की है। यह पूरा घटनाक्रम वायरल वीडियो में साफ तौर पर सुना और देखा जा सकता है।

Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

Umaria: गालीबाज PWD के कार्यपालन यंत्री गजेंद्र गायकवाड़ को क्लीन चिट,मोबाइल पर पीड़ित के साथ गाली गलौज करने का ऑडियो हुआ था वायरल

बताया गया कि तहसीलदार के द्वारा किसान सुखीलाल साहू के साथ बेतहाशा मारपीट के बाद किसाम को बेहोशी की हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मानपुर में भर्ती कराया गया जहां उसका उपचार किया गया है। किसान सूखी लाल साहू के ऊपर हुए पूरे घटनाक्रम के बाद स्वयं सूखी लाल साहू ने यह आरोप लगाए हैं। उसका कहना है कि तहसीलदार गुंडागर्दी करते हुए उसके साथ कमरे में बंद कर मारपीट की है। इसके अलावा उसकी ऋण पुस्तिका भी वही लोग रखे हुए हैं।

Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

लेकिन बड़ा सवाल यह की क्या अधिकारी इतने बेलगाम हो गए हैं कि वह कुछ भी करने से बाज नहीं आते लगातार जिले में अधिकारियों की गुंडागर्दी और मनमानी साफ तौर पर देखी जा सकती है चाहे फिर बांधवगढ़ के एसडीएम रहे हो अमित सिंह के द्वारा खुलेआम बीच सड़क पर युवकों को पिटवाना या फिर पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंतरु गजेंद्र गायकवाड़ के द्वारा मानपुर के नागरिक को फोन पर मां-बहन की गालियां देकर धमकाना या फिर स्वास्थ्य विभाग के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी आर के मेहरा के द्वारा शराब के नशे में खुलेआम सड़क पर स्टंट बाजी करना हो, लगातार उमरिया जिले में अधिकारियों के नित नए करनामें सामने आ रहे हैं। लेकिन जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी इन  बेलगाम अधिकारियों से साथ सांठ-गांठ उन्हें क्लीन चिट देने में लगे हैं।

Umaria: कमरे में बंदकर तहसीलदार ने की किसान के साथ मारपीट,बेहोशी की हालत में किसान अस्पताल में भर्ती,जमीन के सीमांकन को लेकर किसान ने की थी 181 में शिकायत

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here