मिशनरी हायर सेकेंडरी स्कूल में नाबालिक छात्राओं के यौन शोषण का मामला, पुलिस पहुंची तो मचा हड़कंप,पादरी सहित अन्य आरोपी फरार

0
644
डिंडौरी (संवाद)। जिले समनापुर थाना अंतर्गत मिशनरी हायर सेकेंडरी स्कूल में पढ़ने वाली नाबालिक छात्राओं के साथ यौन शोषण किये जाने सनसनीखेज मामला सामने आया है।जिसमे मिशनरी के पादरी,प्राचार्य,शिक्षक और वार्डन के शामिल होने की जानकारी मिली है।पुलिस ने सभी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपियों की धरपकड़ की जा रही है।वहीं 8 नाबालिक पीड़ित छात्राओं को काउंसलिंग के लिए वन स्टाप सेंटर में रखा गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक आदिवासी जिले डिंडौरी के समनापुर थाना अंतर्गत मंडला जिले की सीमा के नजदीक जुनवानी में क्रिश्चियनों का जेडीईएस मिशनरी हायर सेकेंडरी स्कूल है। जहां आसपास के तमाम इलाको के जिनमे ज्यादातर आदिवासी छात्र छात्राये अध्यनरत है। जहां पर कुछ छात्राओं के साथ संदिग्ध गतिविधियां होने की जानकारी मिली थी। जिस पर बाल संरक्षण आयोग के सदस्य अनुराग पाण्डेय और विधायक ओमकार सिंह मरकाम ने शुक्रवार को पुलिस टीम के साथ जांच करने पहुंचे। पूछताछ के दौरान नाबालिग छात्राओं ने जो जानकारी दी, उससे सभी अधिकारी भी दंग रह गए। छात्राओं के आरोप सुनकर मौके से पादरी और दो अन्य मौके से फरार हो गए।
छात्राओं का आरोप है कि पादरी सहित अन्य उनका यौन शोषण करने के साथ मारपीट भी करते हैं। शुक्रवार की शाम ही आठ नाबालिग छात्राओं को जिला मुख्यालय के वन स्टाप सेंटर लाकर रखा गया। शनिवार को सुबह से ही महिला थाना में बयान दर्ज कराने का दौर चला। चारों आरोपितों के विरुद्ध पुलिस ने यौन शोषण, छेड़छाड़ और पास्को एक्ट सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। इस मामले में पुलिस ने आरोपित प्राचार्य नान सिंह यादव को गिरफ्तार कर लिया है। कार्रवाई और पूछताछ के दौरान पादरी, शिक्षक और वार्डन चकमा देकर फरार हो गए। यौन शोषण करने वालों में स्कूल के पादरी, प्राचार्य, एक शिक्षक और वहां की वार्डन का नाम सामने आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here