आकाशकोट मे महिलाओ ने पेयजल संकट को लेकर विकास यात्रा के दौरान विधायक को घेरा

0
737
उमरिया (संवाद)। जिले के आकाशकोट इलाके मे हमलाल पेयजल संकट कोई नया मुद्दा नही है। बल्कि यहां पर यह मुद्दा अब नासूर बन गया है। लेकिन सरकार अब तक इस संकट के निवारण मे असफल रही है। बीते 40 साल से यह पूरा इलाका हर साल ग्रीष्मकाल मे बून्द बून्द पानी को तरसता है।
बीते 10-12 वर्षों से लगातार यहां के लोग आकाशकोट मे नर्मदा नदी बेलगडा बांध से पानी लाये जाने की मांग कर रहे है। इसके लिए अनेको बार जिला मुख्यालय उमरिया मे रैली निकाल कर ज्ञापन सौपा गया और क्षेत्र मे गांव गांव बैठक आयोजित की गई। शासन प्रशासन को मांग पत्र के माध्यम से अवगत कराया गया। मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आकाशकोट के पठारी कला गांव पंहुच कर जल संकट निवारण की घोषणा की थी। किन्तु घोषणा हवा हवाई ही सिद्ध हुई है। अब जब गर्मी आने वाली है और  जंहा पानी का ठहराव, जमाव नही है वंहा पानी पंहुचाने की योजना का ढिढोरा पीटा जा रहा है।
सरकार के प्रति जहां आकाशकोट के लोगो मे भारी गुस्सा देखा जा रहा है। वही यहां के विधायक और लगातार 40 साल इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रहे भाजपा के नेता ज्ञान सिंह और अब उनके बेटे विधायक शिवनारायण सिंह को लोगो ने खरी खोटी सुनाई है। लगातार इस क्षेत्र के विधायक ने ग्रामीणों  की मांग को नजरअंदाज किया गया है।ग्रामीणों का कहना है कि सरकार के द्वारा विकास यात्रा के रुप मे लोंगो का मजाक बना रही है क्योंकि जब विकास हुआ ही नही तो कैसी विकास यात्रा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here