Umaria News: हत्या की आशंका को लेकर परिजनों ने थाने के सामने शव रख किया प्रदर्शन,मामले में लापरवाही बरतने एक ASI लाइन हाजिर,एसपी ने गठित की जांच टीम

0
541
उमरिया/मानपुर (संवाद)। 15 दिनों से लापता युवक का शव मानपुर के एक खंडहर नुमा घर में क्षत-विक्षप्त हालत में मिला है। शव की हालत देख परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया, जिसके चलते परिजनों ने मृत युवक का शव मानपुर पुलिस थाने के सामने रख जमकर प्रदर्शन किया है इस दौरान सैकड़ो की तादाद में लोग शामिल रहे हैं। मृत युवक की पहचान अमर पिता हर प्रसाद सोनी उम्र 38 वर्ष निवासी मानपुर के रूप में हुई है।
दरअसल मृतक अमर सोनी उर्फ मोटू 17 अगस्त से लापता बताए जा रहा है जिसकी शिकायत 10 दिन बाद 27 अगस्त को उसकी पत्नी रूपा सोनी के द्वारा मानपुर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। शिकायत दर्ज करने के 6 दिन बाद बीते शनिवार को लापता अमर सोनी का शव मानपुर स्थित एक खंडहर नुमा घर में क्षत विक्षप्त हालत में मिला है। शव की हालत देख परिजनों ने इस घटना को हत्या से जोड़कर देख रहे हैं। शव मिलने के बाद मानपुर पुलिस के द्वारा मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया।
मृत युवक के परिजनों और स्थानीय लोगों के द्वारा युवक की हत्या कर उसके शव को को खंडहर में फेंक दिए जाने की आशंका और पुलिस की लापरवाही के चलते उन्होंने आज रविवार को सुबह युवक का शव मानपुर पुलिस थाने के सामने रखकर प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान सैकड़ो की तादाद में लोग जमा रहे। मामले को बिगड़ता देख पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और परिजनों से बातचीत कर मामले की जांच के लिए एक टीम गठित कर निष्पक्ष जांच करने की बात कही गई।
मामले में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिपाल सिंह महोबिया के द्वारा परिजनों को समझाइस देने के बाद परिजन किसी कदर उनकी बात माने और शव को वहां से उठाकर पीएम की कार्यवाही कराकर अंतिम संस्कार के लिए ले गए। इस दौरान पूरे मामले में मानपुर थाना पुलिस के एएसआई राजेंद्र तिवारी की लापरवाही भी सामने आई है जिसे पुलिस अधीक्षक निवेदिता नायडू ने लाइन हाजिर कर दिया है।
मामले की गंभीरता और परिजनों के द्वारा युवक की हत्या किए जाने की आशंका को पुलिस अधीक्षक निवेदिता नायडू ने गंभीरता से लिया है। इसके लिए पुलिस अधीक्षक ने एक टीम का गठन किया है जो पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कर रिपोर्ट पेश करेगी। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में गठित पांच सदस्यीय टीम में एसडीओपी पाली,थाना प्रभारी पाली,थाना प्रभारी मानपुर और साइबर सेल से दो पुलिसकर्मियों को शामिल किया गया है। बताया गया कि मृत युवक के पास से 40 हजार रुपए भी मिले हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here