Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

0
159
Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली
Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

Navratri 2023 महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली। आपको पता है की अभी नवरात्री का समय चल रहा है और सभी लोग नवरात्री के उपवास रखते है लेकिन अब बता दे नवरात्रि के दौरान कन्या पूजन अनुष्ठान बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। लेकिन  अष्टमी तिथि या नवमी तिथि को कुमारी पूजा करते हैं। और घर पर कन्या पूजन कर रहे हैं। लेकिन इसमें कुछ जरुरी बातो का ध्यान रखना चाहिए। इन दिनों सात्विकता का पालन करना चाहिए। और अष्टमी-नवमी की पूजा में उन्हीं चीजों का यूज करें, जिन्हें आप मां दुर्गा को समर्पित करने का बाद खुद उपयोग करना चाहिए।

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली
Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

यह भी जाने :- Schemes for Farmers: मातारानी के आगमन होते ही सरकार ने दी किसानो को बड़ी सौगात, जानिए कितना आएगा खाते पैसा

महानवमी कन्या पूजन मुहूर्त

1 महानवमी पूजा तिथि 23 अक्टूबर 2023 सोमवार

2 नवमी तिथि प्रारंभ – 22 अक्टूबर 2023 शाम 07:58 बजे से।

3 नवमी तिथि समापन – 23 अक्टूबर 2023 शाम 05:44 बजे तक।

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली
Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

यह भी जाने :- बीजेपी उम्मीदवार मंत्री सुश्री मीना सिंह ने शुरू किया चुनाव प्रचार अभियान,जनसंपर्क के दौरान भाजपा अध्यक्ष सहित कार्यकर्ता रहे शामिल

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

कन्या पूजन की विधि

अब खबरों के अनुसार बता दे की कन्या पूजन देवी कन्या पूजन देवी दुर्गा की पूजा करने के सामान ही। और इसका मानना यह है की  कन्याओं में देवी मां का वास होता है। लेकिन धार्मिक ग्रंथों के अनुसार, कुमारी पूजा के लिए दो से दस वर्ष की आयु वाली कन्या उपयुक्त होती हैं। कन्याएं देवी दुर्गा के कई रूपों का प्रतिनिधित्व करती हैं। इनकी पूजा करने से मां दुर्गा की कृपा प्राप्त होती है। जो भक्त अपने घर में कन्याओं का पूजन करते हैं, उनके घर में कभी दरिद्रता निवास नहीं करती। कन्या पूजन बहुत ही पवित्र अनुष्ठान माना जाता है और साथ ही सभी के घर नवमी के कन्या पूजन करवाते है। जिससे मातारानी की कृपा करते है।

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली
Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

यह भी जाने :- Schemes for Farmers: मातारानी के आगमन होते ही सरकार ने दी किसानो को बड़ी सौगात, जानिए कितना आएगा खाते पैसा

इस विधि से करें कन्या पूजन

1 नौ कन्याओं और एक बालक को अपने घर आमंत्रित करना चाहिए।

2 और फिर पूरे उत्साह के साथ कन्याओं का स्वागत करना चाहिए।

3 कन्याओं के पैर धोएं।

4 कन्याओं के माथे पर अक्षत और कुमकुम लगाएं।

5 कन्याओं को चुनरी ओढ़ानी चाहिए।

6 कन्याओं को हलवा-पूरी और चने का प्रसाद खिलाएं।

7 अंत में चरण स्पर्श करें और अपनी श्रद्धा के अनुसार दक्षिणा दें।

यह भी जाने :- Chhattisgarh Assembly Election 2023: चुनाव आयोग पहुंची कांग्रेस, और निर्वाचन कार्यालय में की रिपोर्ट जानिए इसे बारे सब कुछ 

Navratri 2023: महानवमी में इस मुहर्त में करिये कन्या भोजन। प्रसन्न होकर देवी माँ भरेंगी आपकी झोली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here