MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

0
2165
MP (संवाद)। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री सहित दो उपमुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद अब मंत्रिमंडल के गठन को लेकर लोगों को बेसब्री से इंतजार है विधानसभा चुनाव में जीते विधायक और पुराने दिग्गज नेताओं में लगातार आस जगी हुई है की किसे मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव के मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी। इस बार के विधानसभा चुनाव में जिस कदर बीजेपी को प्रचंड बहुमत के साथ 163 सीटों पर विजय श्री मिली है। इससे मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नेताओं की लंबी फेहरिस्त हो चुकी है। लेकिन इस बार मुख्यमंत्री के जैसे ही मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नाम चौंकाने वाले होंगे।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

बीते रविवार को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव उपमुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ला और जगदीश देवड़ा सहित भाजपा अध्यक्ष बीडी शर्मा संगठन मंत्री हितानंद शर्मा दिल्ली पहुंचकर राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास में देर रात तक चली बैठक के दौरान मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले विधायकों और दिग्गज नेताओं की सूची तैयार कर ली गई है। संभवतः कल 19 दिसंबर को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने वाले मंत्रियों के नामों के खुलासे के साथ शपथ ग्रहण समारोह भी आयोजित कराया जा सकता है।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बार मध्यप्रदेश के मंत्रिमंडल गठन को लेकर कुछ क्राइटेरिया और निर्देशों का पालन किया जा रहा है, जिसमें सबसे पहले यह कि तीन बार मंत्री रह चुके नेताओं को इस बार चांस नहीं दिया जाएगा। इसके अलावा उन नए चेहरों सहित उन नेताओं को मौका दिया जाएगा जो पिछले दो या तीन बार से लगातार विधायक चुनते आ रहे हैं। लेकिन अभी तक उन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं दी गई है। इसके अलावा उन जिलों के विधायकों भी मौका दिया जाएगा, जिन जिलों से पिछले सरकार के कार्यकाल के दौरान मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया था।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

आगामी अप्रैल-मई 2024 में लोकसभा के चुनाव होने हैं इस लिहाज से भी मंत्रिमंडल के गठन को लेकर नजर रखी जा रही है। शहडोल संभाग के अंतर्गत शहडोल जिले में आने वाली तीनों विधानसभा में बीजेपी की प्रचंड जीत हुई है। शहडोल की जैतपुर विधानसभा सीट से छठवीं बार विधानसभा का चुनाव जीते है, जयसिंह मरावी इस क्षेत्र के काद्यावर नेता माने जाते हैं। छठवीं बार 2023 के चुनाव में इन्होंने 32000 के प्रचंड बहुमत से जीत दर्ज की है। 2013 के विधानसभा चुनाव के बाद शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल में जय सिंह मरावी को मंत्री बनाया गया था। वहीं जिले के अंतर्गत जयसिंहनगर विधानसभा सीट से बीजेपी की युवा नेत्री मनीष सिंह लगातार दूसरी बार प्रचंड बहुमत से विधायक चुनी गई है। इसके अलावा ब्यौहारी विधानसभा सीट से लगातार दो बार से बीजेपी के शरद कोल चुनाव जीतते आ रहे हैं।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

उमरिया जिले की बात करें तो यहां भी जिले की दोनों विधानसभा सीट में 2003 से बीजेपी का कब जा रहा है जिला मुख्यालय उमरिया की बांधवगढ़ विधानसभा सीट से बीजेपी के वरिष्ठ आदिवासी नेता ज्ञान सिंह लगातार चुनाव जीते आए है। उसके बाद अब उनकी जगह उनके बेटे शिवनारायण सिंह विधानसभा का तीन बार से चुनाव जीतते आ रहे हैं। इस बार 2023 की विधानसभा में जहां शिवनारायण सिंह ने तीसरी बार चुनाव जीत कर हैट्रिक लगा दी है, वही इस बार के मंत्रिमंडल में इस युवा चेहरे को भी शामिल किये जाने की प्रबल संभावना है। यहां की दूसरी विधानसभा सीट यानी मानपुर की बात करें तो यहां से बीजेपी की नेत्री लगातार चार बार से विधायक मीना सिंह को बीते शिवराज सिंह चौहान के कार्यकाल में मीना सिंह को कैबिनेट मंत्री बनाते हुए जनजातिय कार्य विभाग सौंपा गया था। इसके पहले भी 2008 के कार्यकाल के दौरान मीना सिंह को राज्य मंत्री बनाया गया था। लेकिन मीना सिंह के ऊपर जनजाति कार्य विभाग का कैबिनेट मंत्री रहने के दौरान करोड़ों रुपए की भ्रष्टाचार किये जाने का आरोप लग चुका है।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

सन 2018 में डेढ़ साल के भीतर कमलनाथ की सरकार गिरने के बाद पुनः मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार बनी थी, जिसमें उमरिया जिले की मानपुर विधानसभा सीट से मीना सिंह को जनजातिय कार्य विभाग का कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। लेकिन उनके कार्यकाल के दौरान उनके गृह जिले यानी उमरिया में उन्हीं के विभाग आदिम जाति कल्याण विभाग में करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार हुआ है। इतना ही नहीं भ्रष्टाचार करने वाले अधिकारी कर्मचारी आज भी उन्ही पदों पर बैठे हुए हैं, जबकि तत्कालीन कलेक्टर के द्वारा मामले की विधिवत जांच कराई गई जिसमें लगभग चार करोड रुपए का भ्रष्टाचार किया जाना पाया गया था। इसके बाद कलेक्टर के द्वारा भ्रष्टाचार में संलिप्त सहायक आयुक्त और बाबू ब्रजेन्द्र सिंह के ऊपर कार्यवाही की गई थी।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

लेकिन उस समय सूत्रों के हवाले से जो खबर मिल रही थी उसमें यह की विभागीय मंत्री मीना सिंह के इशारे पर उन भ्रष्टाचारी अधिकारी-कर्मचारियों को बहाल कर दिया गया और उन्हें उसी जगह पर बैठा दिया गया था जहां पर वह भ्रष्टाचार को अंजाम दे चुके हैं। मामला आदिवासी छात्रावासों और स्कूलों में तमाम निर्माण कार्यों को लेकर अधिकारी और कर्मचारियों ने ठेकेदार से सांठगांठ कर बगैर कार्य किये ही राशि का भुगतान कर दिया था। जिसकी तत्कालीन कलेक्टर ने विधिवत जांच कराई और जांच में गड़बड़ी और भ्रष्टाचार उजागर हो गया। इसके अलावा बीते दिनों गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के द्वारा मंत्री मीना सिंह के द्वारा बस्ती विकास योजना में करोड़ों रुपए का कथित भ्रष्टाचार किए जाने का मामला उठाया था।

MP News: मंत्रिमंडल के गठन को लेकर हुई बैठक में मंत्रियों के नाम तय,यहां जानिए शहडोल,उमरिया और कटनी जिले की मंत्रिमंडल में कैसी रहेगी स्थिति.?

वहीं कटनी जिले की बात करें तो जिले के अंतर्गत आने वाली चारों विधानसभा सीट में इस बार बीजेपी का परचम लहराया है यहां से भी कई दिग्गज नेता मंत्रिमंडल में शामिल होने की दौड़ में है। सबसे पहले विजयराघवगढ़ विधानसभा सीट से लगातार तीसरी बार विधायक बने संजय सत्येंद्र पाठक का नाम सबसे प्रमुख है। हालांकि संजय सत्येंद्र पाठक को शिवराज सरकार में राज्य मंत्री बनाया गया था। लेकिन लगातार जीत से उनके मंत्री बनने की संभावना प्रबल है। इसके अलावा एक बड़ा नाम और कटनी जिले में माना जाता रहा है जिसमें कटनी जिला मुख्यालय यानी मुड़वारा विधानसभा सीट से लगातार 3 बार से संदीप जायसवाल भाजपा का परचम लहराते आ रहे है। संदीप जायसवाल को अभी तक मंत्रिमंडल में शामिल होने का मौका नहीं मिला है इसलिए इस बार डॉक्टर मोहन यादव के मंत्रिमंडल में संदीप जायसवाल को शामिल किए जाने की संभावना बेहद प्रबल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here