MP Election: बैलट पेपर छेड़छाड़ मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही, नोडल अधिकारी के बाद रिटर्निंग ऑफिसर सस्पेंड

0
1449
Bhopal (संवाद)। बड़ी खबर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से है, जहां बालाघाट जिले में विधानसभा निर्वाचन के दौरान बैलेट पेपर छेड़छाड़ के मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही की गई है। जिसमें रिटर्निंग ऑफिसर एसडीएम गोपाल सोनी को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके पहले भी इसी मामले में नोडल अधिकारी तहसीलदार हिम्मत सिंह को सस्पेंड किया गया था। कांग्रेस ने इस मामले मैं कहा कि वह कहीं भी कंफ्यूज नहीं है। कंफ्यूज होती तो अधिकारियों के ऊपर कार्यवाही क्यों की जाती.?

MP Election: बैलट पेपर छेड़छाड़ मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही, नोडल अधिकारी के बाद रिटर्निंग ऑफिसर सस्पेंड

दरअसल बालाघाट जिले की बालाघाट विधानसभा 111 में बैलेट पेपर के साथ छेड़छाड़ किए जाने का मामला पूरे प्रदेश में गुंजा था। तस्वीरें और वीडियो में भी साफतौर पर दिखाई दे रहा था कि उसे खोलकर चार से पांच कर्मचारी छेड़छाड़ कर रहे हैं। इसके बाद यह मामला पूरे प्रदेश में सुर्खियों में बना रहा। इस पूरे मामले की कांग्रेस पार्टी के द्वारा चुनाव आयोग शिकायत किए जाने के बाद चुनाव आयोग ने मामले की जांच करने और कार्यवाही करने का आश्वासन दिया था।

MP Election: बैलट पेपर छेड़छाड़ मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही, नोडल अधिकारी के बाद रिटर्निंग ऑफिसर सस्पेंड

मामले में प्रथम दृश्य वैलेट पेपर से छेड़छाड़ करना प्रतीत पाया गया था जिसके बाद वहां पर पदस्थ नोडल अधिकारी तहसीलदार हिम्मत सिंह भवेदी को सस्पेंड कर दिया गया था। लेकिन मामला यहीं तक नहीं था मामले में कांग्रेस पार्टी के द्वारा शिकायतों का दौर चलता रहा और जांच भी की जाटी रही।इसके बाद अब जो जानकारी मिल रही है उसमें यह की चुनाव आयोग की अनुशंसा पर बालाघाट के कलेक्टर गिरीश मिश्रा के द्वारा रिटर्निंग ऑफिसर एसडीएम गोपाल सोनी को सस्पेंड करने का प्रस्ताव कमिश्नर को भेजा गया था। इसके बाद कलेक्टर की अनुशंसा पर कमिश्नर ने रिटर्निग ऑफिसर एसडीएम गोपाल सोनी को सस्पेंड कर दिया है।

MP Election: बैलट पेपर छेड़छाड़ मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही, नोडल अधिकारी के बाद रिटर्निंग ऑफिसर सस्पेंड

वहीं कांग्रेस इस मामले में कहीं भी कंफ्यूज नहीं है, कांग्रेस नेता के के मिश्रा ने X में लिखा कि डाक मतपत्र से छेड़छाड़ मामले में रिटर्निंग ऑफिसर एसडीएम गोपाल सोनी को निलंबित किया गया है यह बड़ी कार्रवाई है।इसके पूर्वी नोडल अधिकारी तहसीलदार हिम्मत सिंह निलंबित किया जा चुके हैं अगर कांग्रेस कहीं भी इस मामले में कंफ्यूज होती तो प्रशासन इन अधिकारियों पर कार्यवाही क्यों करता.? उन्होंने लिखा कि क्या कलेक्टर इस मामले में दोषी नहीं है.? फिर उन पर कार्यवाही क्यों नहीं की जा रही है क्या उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा.?

MP Election: बैलट पेपर छेड़छाड़ मामले में एक बार फिर बड़ी कार्यवाही, नोडल अधिकारी के बाद रिटर्निंग ऑफिसर सस्पेंड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here