MP Election: कांग्रेस 1 तो भाजपा 2 सीटों की नहीं कर सकी घोषणा,यहां जानिए किन सीटों में फंसा है पेंच

0
479
MP (संवाद)। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए जहां नाम निर्देशन भीम प्रारंभ कर दी गई है अभ्यर्थियों के द्वारा नामांकन भी भरना शुरू कर दिया गया है बावजूद इसके मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों के लिए कांग्रेस ने 229 और भाजपा ने 228 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया गया है। अभी भी कांग्रेस 1 सीट तो बीजेपी 2 सीटों में उम्मीदवारों की घोषणा नहीं कर सकी है।

MP Election: कांग्रेस 1 तो भाजपा 2 सीटों की नहीं कर सकी घोषणा,यहां जानिए किन सीटों में फंसा है पेंच

वैसे तो भारतीय जनता पार्टी के द्वारा मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के चयन और प्रत्याशियों की घोषणा में शुरू से आगे रही है। लेकिन उसके द्वारा जैसे-जैसे 4 सूची के माध्यम उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया गया है। उसके बाद पार्टी के अंदर और दावेदारों और उनके समर्थकों में भारी घमासान और विरोध पनपना शुरू हो गया। और शायद यही वजह रही की इसके बाद भाजपा उम्मीदवारों के चयन में पिछड़ गई।

MP Election: कांग्रेस 1 तो भाजपा 2 सीटों की नहीं कर सकी घोषणा,यहां जानिए किन सीटों में फंसा है पेंच

वहीं कांग्रेस पार्टी शुरुआत में भले ही पीछे रहे लेकिन बाद में वह आगे आते दिखाई दी है। कांग्रेस ने अपनी पहली सूची के माध्यम से 144 नाम की घोषणा करने के के बाद चार दिन के भीतर दूसरी सूची के माध्यम से 88 नाम का भी ऐलान कर दिया है। इस तरीके से कांग्रेस ने बीजेपी से पहले अपने अधिकतर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। हालांकि कांग्रेस ने दूसरी सूची में पहली सूची में बनाए गए उम्मीदवारों में से तीन की टिकट बदली है। जिसमें नरसिंहपुर जिले की विधानसभा सीट गोटेगांव, शिवपुरी जिले की विधानसभा पिछोर और दतिया विधानसभा सीट की टिकट बदली गई है। अब सिर्फ एक सीट बैतूल की आमला शेष रह गई है, जिसमें कांग्रेस पार्टी डिप्टी कलेक्टर निशा बांगरे के इस्तीफा के बाद घोषित करेगी।

MP Election: कांग्रेस 1 तो भाजपा 2 सीटों की नहीं कर सकी घोषणा,यहां जानिए किन सीटों में फंसा है पेंच

भारतीय जनता पार्टी ने ने जहां मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा चुनाव के लिए चार सूचियों के माध्यम से 136 नाम का ऐलान पहले ही कर दिया था, शेष 94 सीटों के लिए पार्टी के द्वारा उम्मीदवारों के चयन में भारी मशक्कत का सामना करना पड़ा है। जबकि भाजपा ने अपनी पहली सूची मध्य प्रदेश में आचार संहिता लागू होने के एक माह पहले ही जारी कर दी थी। लेकिन अंतिम सूची जारी करते-करते पार्टी को पसीना छूट गया। बीजेपी ने 21 अक्टूबर को अपनी पांचवी सूची के माध्यम से शेष 94 सीटों के लिए 92 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है जबकि दो सिम अभी भी शेष हैं जिनमें गुना विधानसभा सीट और विदिशा विधानसभा सीट शामिल है।

MP Election: कांग्रेस 1 तो भाजपा 2 सीटों की नहीं कर सकी घोषणा,यहां जानिए किन सीटों में फंसा है पेंच

भारतीय जनता पार्टी ने पहली और दूसरी सूची में 39-39 प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया था, तो वहीं तीसरी सूची में सिर्फ एक नाम शामिल किया गया। इसके बाद भाजपा ने चौथी सूची में 57 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए थे। 21 अक्टूबर को भाजपा के द्वारा पांचवी सूची जारी की जिसमें 92 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की गई है। इस तरह भाजपा ने कुल 230 सीटो में से 228 सीटों के लिए प्रत्याशी मैदान में उतार दिए हैं। लेकिन एक बार फिर पांचवीं सूची जारी होने के बाद भाजपा के दावेदारों और उनके समर्थकों में घमासान मचा गया है। देखना होगा पार्टी के अंदर मची घमासान और अंतर्कलह को पार्टी की वरिष्ठ नेता इन्हें साधने क्या रणनीति अख्तियार करते हैं, या फिर इस घमासान का असर कहीं चुनाव में तो नही देखने को मिलेगा.?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here