MP: यहां जानिए 10वीं-12वीं परीक्षा में मोबाईल को लेकर आखिर क्यों सख्त है बोर्ड,क्या हुआ था बीते वर्ष जिसमें कई शिक्षको को जाना पड़ा था जेल

0
582
उमरिया (संवाद)। मध्य प्रदेश में हाईस्कूल की परीक्षा 5 फरवरी और हायर सेकेंडरी का परीक्षा 6 फरवरी से प्रारंभ होने जा रही है। लेकिन इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड कुछ ज्यादा ही सख्त नजर आ रहा है। इस बार की परीक्षा के दौरान मोबाइल को लेकर सख्ती बरती जा रही है। जिसमें अब परीक्षा की ड्यूटी के दौरान शिक्षक सहित केंद्राध्यक्ष भी अपने पास मोबाइल नहीं रख सकेंगे।

MP: बीते साल हुए घटनाक्रम के चलते 10वी 12वीं बोर्ड परीक्षा में मोबाइल को लेकर सख्त निर्देश,शिक्षक सहित केन्द्राध्यक्ष भी नहीं रख सकेंगे मोबाइल

दरअसल माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड मध्य प्रदेश के द्वारा इस तरीके के सख्त निर्देश इसलिए दिए गए हैं कि बीते साल बोर्ड परीक्षा के दौरान मोबाइल से जानबूझकर प्रश्न पत्र लीक किए गए थे। मध्य प्रदेश के कई जिलों में यह मामला सामने आया था जिसमें केन्द्राध्यक्षो और परीक्षा की ड्यूटी में तैनात शिक्षकों के द्वारा परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्र हल करने का प्रयास किया गया था। इनके द्वारा परीक्षा रूम में परीक्षार्थियों के पेपर बांटने से पहले ही लीक कर दिया गया था।

MP: बीते साल हुए घटनाक्रम के चलते 10वी 12वीं बोर्ड परीक्षा में मोबाइल को लेकर सख्त निर्देश,शिक्षक सहित केन्द्राध्यक्ष भी नहीं रख सकेंगे मोबाइल

सन 2022-23 में यह मामला पूरे प्रदेश कई जिलों में जमकर चला, परीक्षा की ड्यूटी में तैनात शिक्षकों को परीक्षा शुरू होने से 15 से 30 मिनट पहले उनके मोबाइल पर प्रश्न पत्र भेज दिया गया जिससे वह उसे पढ़कर परीक्षा में शामिल परीक्षार्थियों को प्रश्न पत्र हल करा सके जिससे उनकी स्कूल का रिजल्ट शत प्रतिशत अच्छा रहे। परीक्षा ड्यूटी कर रहे शिक्षकों और केंद्र अध्यक्ष के इस गड़बड़ झाले को शिक्षा विभाग और प्रशासन के लोगों ने रंगे हाथ पकड़ा था।

MP: बीते साल हुए घटनाक्रम के चलते 10वी 12वीं बोर्ड परीक्षा में मोबाइल को लेकर सख्त निर्देश,शिक्षक सहित केन्द्राध्यक्ष भी नहीं रख सकेंगे मोबाइल

उमरिया जिले में भी मुख्यालय में स्थित सेंट जेवियर स्कूल परीक्षा केंद्र में पेपर लीक करने का मामला सामने आया था जिसमें केंद्र अध्यक्ष सहित परीक्षा ड्यूटी कर रहे कुछ शिक्षकों की मिली भगत सामने आई थी। जानकारी के बाद जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस पूरे मामले को रंगे हाथ पकड़ा था, जिसके बाद आरोपियों के विरुद्ध गंभीर धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया गया था जिसमें आरोपी शिक्षको को जेल की हवा तक खानी पड़ी थी। तब से लेकर आज भी वह आरोपी शिक्षक इस मामले में सफर कर रहे हैं।

MP: बीते साल हुए घटनाक्रम के चलते 10वी 12वीं बोर्ड परीक्षा में मोबाइल को लेकर सख्त निर्देश,शिक्षक सहित केन्द्राध्यक्ष भी नहीं रख सकेंगे मोबाइल

इसी मामले के चलते इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल के द्वारा बोर्ड परीक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षा के दौरान मोबाइल पूरे तरीके से प्रतिबंधित किया है। इसमें खासकर परीक्षा सेंटर के केंद्र अध्यक्ष सहित परीक्षा ड्यूटी में तैनात शिक्षकों को मोबाइल रखने की अनुमति बिल्कुल नहीं है। मंडल ने साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि कोई भी शिक्षक मोबाइल रखें पाया जाता है तो उसे पर गंभीर कार्यवाही की जाएगी।

MP: बीते साल हुए घटनाक्रम के चलते 10वी 12वीं बोर्ड परीक्षा में मोबाइल को लेकर सख्त निर्देश,शिक्षक सहित केन्द्राध्यक्ष भी नहीं रख सकेंगे मोबाइल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here