GOOD NEWS! रेलवे के इस नियम के बाद सरलता से बुक होंगी टिकट्स

0
133

इंडियन रेलवे ने यात्रियों के लिए टिकट बुकिंग को सुविधाजनक बनाने के लिए हाल ही में एक जरुरी फैसला किया है। इसने मोबाइल ऐप पप यात्रा और प्लेटफॉर्म टिकटों के लिए आउटर लिमिट जियो फेसिंग दूरी के रिस्ट्रक्शन को हटा दिया है।

GOOD NEWS! रेलवे के इस नियम के बाद सरलता से बुक होंगी टिकट्स

मीडिया से बातचीत करते हुए सौरभ कटारिया ने बताया कि अब यात्री घर बैठे किसी भी स्टेशन से अनारक्षित और प्लेटफॉर्म टिकट को बुक कर सकेंगे।

इस बीच में जियो फेसिंग की इंटरनल लिमिट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा। ये सिर्फ स्टेशन परिसर तक ही रहेगी। यात्रियों को सिर्फ बाहर से टिकट बुक करने की सहूलियत दी जाएगी।

रिपोर्ट में बताया गया है कि पहले इस आउटर बॉर्डर जियो फेसिंग दूरी की लिमिट 50 किमी थी। इसका अर्थ है कि एक शख्स उस स्टेशन से या फिर प्लेटफॉर्म टिकट को बुक कर सकता था। जो मोबाइल लोकेशन से 50 किमी के दायरे से स्थिति है। लेकिन ये प्रतिबंध अब अधिकारिय़ों ने हटा दिय़ा है।

Read more : भूल जाइये Airtel और Jio, सरकारी कंपनी फ्री में लगा रही WiFi, ऐसे करें अप्लाई

रेलवे इंटरनेट कनेक्शन वाले मोबाइल फोन के जरिए यूटीएस टिकटों को बुक करने की भी सुविधा दे रहा है। इसके द्वारा यात्रियों को अब अनरिजर्व्ड टिकट बुक करने के लिए लंबी कतारों में खड़े रहने की आवश्यकता नहीं होगी क्यों कि वह अपने स्मार्टफोन की सहायता से टिकट को बुक पाएंगे।

ये यूजर फ्रेजली यूटीएस मोबाइल ऐप को यात्रियों से पॉजिटिव रिस्पॉस मिल रहा है इनमें वह खासतौर पर शामिल किया है, जो अक्सर स्थानीय ट्रेनों से यात्रा करते हैं या जिनको अनरिजर्वर्ड टिकट बुक करने की आवश्यकता होती है।

रेलवे ने आउटर लिमिट जियो फेसिंग प्रतिबंध को हटाने के साथ में लोगों को सुविधा देने के लिए डिजिटलाइजेशन की ओर कदम बढ़ाया है। इस डिसीजन के बाद से ज्यादा य़ात्रियों की यूटीएस मोबाइल ऐप की सहायता से अपने टिकट बुक करने की संभावना है, जिसको टिकट काउंटरों पर काफी लंबी कतारों के छुटकारा प्राप्त कर सकता है।

GOOD NEWS! रेलवे के इस नियम के बाद सरलता से बुक होंगी टिकट्स

हाल ही में रेलवे ने यूटीएल मोबाइल ऐप पर जियोफेसिंग प्रतिबंध को हटा दिया है, जो कि अब यूजर्स को किसी भी स्थान से किसी भी डेस्टिनेशन के लिए टिकट को बुक करने की इजाजत देता है। इस समय 25 फीसदी ऐप का उपयोग करते हैं तो इस बड़े बदलाव से जनता के बीच में ऐप का इस्तेमाल बढ़ जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here