Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

0
1536
Bhopal (संवाद)। मजदूर माता-पिता के बेटे कमलेश्वर डोडियार विधायक बनने के बाद बाइक से पैरों में स्लीपर पहने 350 किलोमीटर का सफर तय करके राजधानी भोपाल के विधानसभा भवन पहुंचे हैं। जबकि विधायक बनने के बाद नेता 5-6 चमचमाती गाड़ियों के काफिले के साथ पहुंचते हैं लेकिन यहां एक विधायक हवाई चप्पल पहनकर विधानसभा भवन पहुंचे हैं यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि असलियत है।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के सैलाना विधानसभा सीट से भारत आदिवासी पार्टी से उम्मीदवार रहे कमलेश्वर डोडियार ने मौजूदा विधायक और कांग्रेस के उम्मीदवार विजय गहलोत को 4618 मतों से हराकर विजयी हुए हैं। अपने गांव में एक झोपड़ी में रहने वाले कमलेश्वर डोडियार ने 2023 के विधानसभा में जीत दर्ज की है इसके बाद वह आज बुधवार को राजधानी भोपाल की विधानसभा भवन पहुंचे हैं, जिसको देखकर विधानसभा में तैनाश सुरक्षाकर्मी दंग रह गए।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

सभी के मन में एक ही प्रश्न उठ रहा था की विधानसभा में चुनाव जीतने के बाद कोई भी विधायक चमचमाती फोर व्हीलर वह भी तीन-चार की संख्या में विधानसभा पहुंचते हैं लेकिन यहां बाइक पर विधायक लिखकर 350 किलोमीटर का सफर तय करके कोई विधायक विधानसभा पहुंचा है। हालांकि यह कोई कहानी फिल्मी कहानी से काम नहीं है।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

दरअसल मजदूर मां बाप के 33 वर्षीय बेटे कमलेश्वर डोडियार रतलाम जिले की सैलाना विधानसभा के निवासी हैं वह बीते कुछ सालों से अपने क्षेत्र के गरीब आदिवासियों के लिए मदद आदि का काम किया करते थे। लेकिन उनके मन में जन सेवा की इतनी इच्छा जागृत थी कि वह 2023 की विधानसभा चुनाव में भारत आदिवासी पार्टी से चुनावी मैदान में उतर गए। लेकिन सभी जानते हैं आज के दौर में विधानसभा का चुनाव लड़ना आसान नहीं है। इसके लिए कैंडिडेट के पास पर्याप्त रूपयो की व्यवस्था होनी चाहिए, इसके लिए उन्होंने 12 लाख रुपये कर्ज लिया है।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

इसके अलावा चुनाव प्रचार के दौरान जहां भी कमलेश्वर डोडिया जाते वह अपना क्यूआर कोड साथ में लेकर चल रहे थे जिसे जो भी उनकी मदद करना चाहे वह क्यूआर कोड के माध्यम से रुपए उनके खाते में ट्रांसफर कर दे रहे थे। उनके इस चुनाव में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिवराज सिंह चौहान और उनकी योजना लाडली बहन योजना भी कामना आ सकी और वह मौजूदा विधायक हर्ष विजय गहलोत से 4618 मतों से जीत हासिल कर ली। इस सीट पर भाजपा की उम्मीदवार संगीता चारेल तीसरे नंबर पर रही है।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

विधायक कमलेश्वर डोडियार के बारे में जानकारी मिली कि वह चुनाव नामांकन के ठीक 7 दिन पहले जेल से छूटे हैं। सन 2022 में रतलाम जिले की एक युवती ने उनके खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराया था। हालांकि कमलेश्वर और उक्त युवती के बीच शादी संबंध को लेकर भी चर्चा की गई थी जिसमें वह तैयार थे। लेकिन युवती के परिजनों ने इस पर आपत्ति जताई और उनके खिलाफ स्थानीय थाने में शिकायत दर्ज कर दी। जिसके कारण कमलेश्वर को जेल भी जाना पड़ा।

Bhopal News: विधायक बनने के बाद कमलेश्वर डोडियार पैरों में स्लीपर पहने बाईक से पहुंचे विधानसभा, 350 किलोमीटर का तय किया सफर

इसके पहले सन 2018 के विधानसभा चुनाव में भी कमलेश्वर चुनावी मैदान में उतर चुके थे तब उन्हें महज 18000 वोट मिले थे। लेकिन वह हार नहीं माने और लगातार क्षेत्र के लोगों के लिए काम करते रहे। लेकिन 2023 के विधानसभा चुनाव में वह पुनः भारत आदिवासी पार्टी से चुनावी मैदान में उतरे और कांग्रेस पार्टी के मौजूदा विधायक हर्ष विजय गहलोत को 4618 मतों से पराजित कर दिया। इस तरह झोपड़ी में रहने वाले एक मजदूर मां-बाप के बेटे ने विधानसभा का चुनाव जीतकर विधायक बने हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here