बाबर आजम का नहीं तोड़, रच दिया ऐसा कीर्तिमान कि कोई नहीं दूर-दूर तक टक्कर में

0
470

पाकिस्तान टीम के कप्तान बाबर आजम ने अपने मिजाज और बल्लेबाज से दुनियाभर में ऐसी पहचान बनाई, जो किसी परिचय के मोहताज नहीं है। बाबर आजम जब मैदान पर आते हैं तो विरोधी टीम की सिट्टी पिट्टी गुम होने लगती है। भले ही आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में करारी शिकस्त मिलने के बाद बाबर आजम को ट्रोल किया गया हो, लेकिन अब उन्हें फिर खूब पसंद किया जा रहा है। न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच टी-20 मैचों की सीरीज पाकिस्तान ने बराबर पर पहुंचा दी, जों दोनों ने 2-2 मुकाबले जीते।

बाबर आजम का नहीं तोड़, रच दिया ऐसा कीर्तिमान कि कोई नहीं दूर-दूर तक टक्कर में

इस सीरिज में एक मुकाबला ऐसा भी रहा जिसका कोई नतीजा नहीं निकल सका। इस बीच सीरिज भले ही ड्रॉ हो गई, लेकिन पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने एक ऐसा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया, जिनकी टक्कर में रोहित शर्मा और विराट कोहली भी दूर-दूर तक नहीं टिकते हैं।

बाबर आजम ने नाम कर लिया अनोखा रिकॉर्ड
पाकिस्तानी टीम के कप्तान बाबर आजम ने पांचवें टी-20 में न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार बल्लेबाजी करते हुए 44 गेंदों पर 69 रन की पारी खेली। बाबर आजम का टी 20 अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर यह 34वां अर्धशतक था। इसके अलावा बाबर ने टी-20 इंटरनेशनल में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया, जिससे उनके चेहरे पर काफी खुशी देखने को मिली।

Read more : भारतीय मार्केट में तहलका मचाने आ रहा है Redmi का ये धांसू स्मार्टफोन, मिलेंगे शानदार फीचर्स

बाबर ने आयरलैंड के बल्लेबाज पॉल स्टर्लिंग के वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ तोड़ा। अब बाबर टी-20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा चौके लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए। बाबर आजम के नाम T20 में अब तक 409 चौके लगाने का रिकॉर्ड है। दूसरे नंबर पर आयरलैंड के पॉल स्टर्लिंग आते हैं, जिन्होंने अपने टी20 करियर में कुल 407 चौके जमाने का काम किया है।

इसमें मामले में भारतीय टीम के पूर्व कप्तान विराट कोहली तीसरे नंबर पर आते हैं जिनके नाम 361 चौके हैं। चौथे नंबर पर रोहित शर्मा आते हैं जिन्होंने 359 चौके लगा रखे हैं। डेविड वॉर्नडर 320 चौके लगाकर पांचवें नंबर पर हैं।

बाबर आजम का नहीं तोड़, रच दिया ऐसा कीर्तिमान कि कोई नहीं दूर-दूर तक टक्कर में

यह रिकॉर्ड भी बाबर के नाम

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बतौर कप्तान बाबर आजम के नाम टी-20 में सबसे ज्यादा टीम को जीत दिलाने का भी रिकॉर्ड है। उनकी कप्तानी में पाकिस्तानी टीम ने 44 बार जीत दर्ज की है। इस मामले में दूसरे नंबर ब्रायन मसाबा आते हैं, जिनकी कप्तानी में यूगांडा ने 44 मुकाबले जीते हैं। तीसरे नंबर पर इस मामले में इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन आते हैं, जिनके नेतृत्व में टीम को 42 जीत मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here