विद्यालय प्रबंधक की मनमानी आई सामने,छात्रों ने 3 सौ नही दिये तो नही देने दिया परीक्षा

0
142
प्रतीक रामचंद्राणी टीकमगढ़।
जिले के भगवान महावीर बाल संस्कार केंद्र का एक मामला सामने आया है जहां पर विद्यालय प्रबंधक की मनमानी सामने आई विद्यालय के एक शिक्षक का एक ऑडियो वायरल भी हो रहा है जिसमें वह एक विद्यार्थी से प्रैक्टिकल परीक्षा शुल्क के रूप में ₹300 की मांग कर रहे हैं और आज विद्यालय के कई विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल शुल्क जमा नही कर पाने के कारण उन्हें प्रैक्टिकल नहीं देने दिया गया और उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया है।
स्कूल में पढ़ने वाले कक्षा दसवीं के छात्र महेंद्र प्रभाकर ने बताया कि आज उसका पेपर और प्रैक्टिकल है। लेकिन उसे पेपर व प्रैक्टिकल नहीं देने दिया गया। महेंद्र ने बताया कि स्कूल के टीचर से जब उसने इसका कारण पूछा तो टीचर के द्वारा उसे कहा गया कि पहले स्कूल की मासिक फीस और प्रैक्टिकल फीस जमा करें उसके बाद ही उसे पेपर और प्रैक्टिकल देने दिया जाएगा। उसके साथ कई विद्यार्थी ऐसे हैं जिन्हें बाहर का रास्ता दिखाया गया। दिगौड़ा से आए एक विद्यार्थी के परिजन ने बताया कि आज बच्चे को प्रेक्टिकल से बाहर निकाल दिया है और उनसे फीस की मांग की जा रही है। साथ ही ₹300 प्रैक्टिकल की फीस अलग से मांग की जा रही है। अगर वह जमा नहीं करते हैं तो विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल से बाहर निकाल दिया गया है इसके साथ ही विद्यालय की एक टीचर का ऑडियो भी वायरल हुआ है जिसमें वह साफ तौर से विद्यार्थी से प्रैक्टिकल के रूप में ₹300 की मांग कर रहे हैं।
वही जब इस संबंध में विद्यालय के प्राचार्य आरके जैन से वायरल ऑडियो के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि वह ऑडियो हमें बताएं किसका ऑडियो है। हमें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। वहीं जब उनसे फीस और प्रैक्टिकल के पैसों के बारे में बात की गई तो उन्होंने अपना पल्ला झाड़ते हुए कहा कि सभी विद्यार्थियों को पिछले 1 महीने पहले स्कूल की फीस और प्रैक्टिकल के नोडी उसके बारे में बता दिया गया था बच्चों ने अभी तक प्रैक्टिकल शुल्क और मासिक फीस जमा नहीं की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here