मध्यान्ह भोजन खाने के बाद दो दर्जन से अधिक बच्चे बीमार

0
71

उज्जैन (संवाद)। उज्जैन जिले के महिदपुर तहसील अंतर्गत एक प्राथमिक शाला में मध्यान भोजन करने के बाद दो दर्जन से अधिक बच्चे बीमार हो गए हैं जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टर द्वारा बच्चों का इलाज किया जा रहा है l

अस्पताल में भर्ती छात्र और परिजन

दरअसल महिदपुर तहसील अंतर्गत आमडी कटन प्राथमिक शाला में रोज की तरह गुरुवार की दोपहर मध्यान भोजन बनाकर तैयार हुआ। इसके बाद शाला में पढ़ने वाले सभी छात्र-छात्राओं को भोजन वितरित किया गया। छात्रों की माने तो मध्यान भोजन में चावल और कढ़ी बनाया गया था।

मामूली बीमार बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण करते डॉक्टर

चावल कढ़ी खाने के कुछ ही देर बाद छात्रों की तबीयत बिगड़ने लगी। किसी का पेट दर्द करने लगा तो किसी के गले में जलन होने लगी। कुछ छात्रों ने उल्टी करना भी शुरू कर दिया। यह सब कुछ इतना जल्दी हुआ कि छात्र और स्कूल प्रबंधन कुछ समझ ही नहीं पाया। छात्रों की हालत बिगड़ते देख आनन फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों द्वारा छात्रों का इलाज किया जा रहा है। कुछ ही देर में छात्रों के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए और अस्पताल में भीड़ उमर पड़ी।

डॉक्टर ने बताया अब बच्चे खतरे से बाहर

माना जा रहा है कि साला प्रबंधन की लापरवाही के कारण छात्रों को फूड प्वाइजनिंग का शिकार होना पड़ा है। लिहाजा कलेक्टर उज्जैन नीरज कुमार सिंह के निर्देश पर संबंधित शिक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने एवं संबंधित बीआरसी के विरुद्ध भी कार्रवाई की जा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here