बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ,ग्रामीणों में दहशत का माहौल

0
456
Umaria (संवाद)। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में लगातार हो रही बाघो की मौत के बीच एक और नर बाघ की मौत होना प्रबंधन की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान है.? वही एक बाघ के गांव के नजदीक आने से गांव में दहशत का माहौल है। हालांकि वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों को सुरक्षात्मक तरीके से रहने की समझाईस दी है। प्रबंधन का मानना है कि शाम होते ही बाघ जंगल की ओर चला जाएगा इसके लिए वन विभाग चौकसी बरत रहा है।

बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

दरअसल बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघों की मौत का सिलसिला हमने का नाम नहीं ले रहा है इसे लेकर बांधवगढ़ प्रबंधन हमेशा सुर्खियों में रहा है। वहीं 2023 का साल गुजरते-गुजरते लगभग एक दर्जन से ज्यादा बाघों की असमय मौत हो चुकी है। कल मंगलवार को भी एक ऐसे ही घटना सामने आई है जिसमें बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के ताला कोर जोन के किला के नजदीक शेष सैया बीट के क्रमांक 317 में अमृत बाग मिला था गश्ती दल को पेट्रोलिंग के दौरान 7 वर्षीय नर बाघ के मृत अवस्था में मिलने पर पार्क प्रबंधन में हड़कंप मच गया। आनन फानन में पेट्रोलिंग टीम के द्वारा प्रबंधन को जानकारी दी गई इसके बाद एनटीसीए की गाइडलाइन के तहत बाघ का पीएम आदि करा कर उसका शवदाह कर दिया गया है।

बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

बांधवगढ़ प्रबंधन के द्वारा बाघ की मौत का कारण दो बाघों के बीच आपसी संघर्ष की कहानी बताई गई है। प्रबंधन ने बताया कि बाग के शरीर कई जगह चोट के निशान पाए गए हैं। इसके अलावा घटनास्थल पर किसी दूसरे भाग के निशान पगमार्क भी मिले हैं। जिससे प्रथम दृष्टा यह अंदेशा जताया जा रहा है कि मत टाइगर की मौत दो बाघों के बीच आपसी संघर्ष को लेकर हुई है। हालांकि वन प्राणी प्रेमियों का मानना है कि बांधवगढ़ प्रबंधन के द्वारा बाघों की मौत की असली बजट तलाशने की बजाय हर मामले में बाघों के बीच आपसी संघर्ष की कहानी बता कर पल्ला झाड़ने हुए नजर आते हैं।

बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

वही आज बुधवार को बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के  पतौर रेंज के अंतर्गत बकेली गांव के नजदीक बाघ के आ जाने से हड़कंप मचा हुआ है। बाघ के गांव के नजदीक आने से जहां ग्रामीणों में दहशत का माहौल है  वहीं ग्रामीण एकजुट होकर झाड़ियां में छिपे बाघ के पास तक पहुंच कर जमकर हो हल्ला किया है। जानकारी के बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची है जिसने पहले ग्रामीणों को सुरक्षात्मक रवैया अपनाने की समझाइस दी है।

बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

वन अधिकारियों का कहना है कि बाघ शाम होते ही जंगल की ओर लौट जाएगा  हालांकि वन विभाग की टीम बाघ की लगातार चौकसी बरत रहा है। लेकिन इस बीच ग्रामीणों को भी बाघ वाले एरिया से दूर रहने की सलाह दी है। बता दे की बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व की सीमा से दर्जनों गांव में बाघ की समस्या बनी रहती है। आए दिन कहीं ग्रामीणों के मवेशी मारे जाते हैं तो कहीं ग्रामीणों पर बाघ के हमले होते रहते हैं।

बांधवगढ़ में एक और बाघ की मौत तो गांव में घुसा एक बाघ, ग्रामीणों में दहशत का माहौल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here