नाबालिक छात्राओं के यौन शोषण मामले में बड़ी कार्यवाही, टीआई के बाद हटाए गए एसपी,सीएम शिवराज ने दिये निर्देश

0
589
डिंडोरी (संवाद)। बीते दिनों डिंडोरी जिले के समनापुर थाना अंतर्गत ग्राम जुनवानी में स्थित मिशनरी स्कूल मे अध्ययनरत छात्राओं के यौन शोषण के मामले में प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी कार्यवाही की है। जहां उन्होंने मामले में लापरवाही बरतने के चलते जिले के पुलिस अधीक्षक संजय सिंह को तत्काल हटाने के निर्देश जारी किए हैं। इसके पहले समनापुर पुलिस थाने के टीआई को भी हटा दिया गया है।
दरअसल डिंडोरी के समनापुर थाना अंतर्गत मंडला जिले की सीमा में स्थित मिशनरी स्कूल में नाबालिग छात्राओं के यौन शोषण का मामला प्रकाश में आया था मामले की शिकायत के बाद बाल संरक्षण आयोग के सदस्य और क्षेत्रीय विधायक स्कूल पहुंचे और पूरे मामले का जायजा लिया जांच के दौरान अध्ययनरत 8 छात्राओं ने स्कूल के फादर, प्रिंसिपल, शिक्षक और एक महिला वार्डन के खिलाफ यौन शोषण करने का की बात सामने आई थी। जिसके बाद पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला पंजीबद्ध कर लिया था लेकिन पुलिस की लापरवाही पूर्वक कार्यवाही के कारण राष्ट्रीय बाल संरक्षण के द्वारा पुलिस की कार्यप्रणाली से असंतुष्टता जाहिर की गई थी। बाल संरक्षण के सदस्य के द्वारा मामले में गिरफ्तार प्रिंसिपल नाम सिंह यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन दबाव या अन्य किसी कारणवश उसे थाने से ही रिहा कर दिया गया।
बताया गया कि इतने गंभीर मामले में पुलिस को जिस प्रकार गंभीरता दिखानी चाहिए वह नहीं दिखा सकी और मामले में लगातार लापरवाही बरतने की बात सामने आती रही हैं। इधर राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग के सदस्य के द्वारा डिंडोरी जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर इस मामले मे पुलिस की कार्यप्रणाली पर असंतोष जाहिर की गई थी। जिसके कारण समनापुर थाने के टीआई को हटा दिया गया था। लेकिन इस मामले में पुलिस के रवैए से नाराज मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस की लापरवाही के कारण जिले के पुलिस अधीक्षक संजय सिंह को भी तत्काल हटाने के निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here