झुकेही गोलीकांड: तीसरी आंख ने खोला राज, पुलिस को गुमराह करने रची थी झूठी कहानी,धोखे में दोस्त के हाथों चली गोली

0
832
हीरा विश्वकर्मा,कटनी (संवाद)। 
देशी पिस्टल को हाथ मे लेकर मस्ती कर रहे गौरव रितिक पाण्डेय को कहां पता था कि वह पिस्टल को हाथों में लेकर खिलौने की तरह खेल रहा है उससे अचानक गोली चल जाएगी और उसी के दोस्त को लग जायेगी।धोखे से हुए इस गोलीकांड के पूरे घटनाक्रम के बाद रितिक के दोस्त सूरज पाण्डेय के पेट मे गोली लगी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया।आनन फानन में वह अपने घायल दोस्त को कटनी के अस्पतल में भर्ती कराया है।इस दौरान वह डरकर मामले की सच्चाई छिपाने और सोची समझी कहानी रच डाली।उसने पुलिस को सच्चाई से गुमराह करते हुए पुलिस को बताया कि उसके दोस्त सूरज को कुछ नकाबपोश बदमाश लूट के इरादे से गोली मार दी है। मामले की जांच में जुटी पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से झूठी कहानी का पर्दाफाश कर दिया है।
पूरी वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक कटनी अभिजीत रंजन ने  बताया कि सतना जिले के झुकेही में स्थित  भैरवनाथ ट्रांसपोर्ट के कर्मचारी 22 वर्षीय सूरज पाण्डेय पिता भीम पांडे पर लूट के इरादे से नहीं बल्कि उसके ही दोस्त गौरव रितिक पांडे पिता नागेंद्र प्रसाद पांडे के देशी पिस्टल से गोली चली थी। पुलिस अधीक्षक ने आज आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि रितिक पांडे अपनी देशी पिस्टल को दोस्त सूरज के सामने लहरा रहा था। उसी समय पिस्टल से अचानक गोली चल गई गोली सूरज के पेट में लगी है।
एसपी ने बताया कि आरोपी रितिक पाण्डेय डरकर पुलिस को गुमराह करने झूठी कहानी रच डाली और घटना को छिपाने ट्रांसपोर्ट के कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे और देशी पिस्टल को झुकेही के पास छुपा दिया। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर बॉक्स और अवैध देशी पिस्टल को बरामद कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घायल सूरज पांडे का कटनी के एमजीएम हॉस्पिटल में उपचार जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here