जिला पंचायत के सदस्य अभी लेखापाल अखिलेश पाण्डेय का विरोध ही कर रहे थे कि कलेक्टर ने उसे बना दिया प्रभारी सीईओ

0
1434
उमरिया (संवाद)। जिले के जिला पंचायत में जहां सदस्यों ने जिला पंचायत की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किये है।वही सीधे तौर पर लेखाधिकारी अखिलेश पाण्डेय के द्वारा सम्मानित सदस्यों को अपमानित करना,उनके द्वारा जानकारी उपलब्ध नही कराना जैसे कई मामलों सदस्य गण शुक्रवार 31 मार्च को उसके खिलाफ कार्यवाही किये जाने की मांग कलेक्टर के समक्ष रही है।लेकिन यह क्या हो गया कि अखिलेश पाण्डेय को लेखाधिकारी के साथ साथ एक महीने के लिए प्रभारी सीईओ बना दिया गया है।
दरअसल जिला पंचायत की सीईओ श्रीमती ईला तिवारी मध्यप्रदेश शासन के द्वारा मिड कैरियर के तहत आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी भोपाल में प्रशिक्षण का आयोजन किया गया है। जिसमे जिला पंचायत की सीईओ इला तिवारी भी प्रशिक्षण में  दिनांक 2 अप्रैल से 5 मई 2023 तक शामिल होंगी।इस दौरान जिला पंचायत उमरिया में प्रभारी सीईओ के रूप में लेखाधिकारी अखिलेश पाण्डेय को जिले के कलेक्टर के द्वारा आदेशित किया गया है।

इसके पहले 31 मार्च को जिला पंचायत में सामान्य सभा की बैठक का आयोजन किया गया था जहां लेखाधिकारी के बर्ताव से नाराज और व्यथित सदस्यों ने बैठक के बीच मे ही उठकर सामूहिक रूप से बहिष्कार कर दिया।इसके बाद सभी ने कलेक्टर के पास पहुंचकर अखिलेश पाण्डेय की कार्यप्रणाली के खिलाफ लिखित शिकायत कर कार्यवाही किये जाने की मांग की है। बावजूद इसके अखिलेश पाण्डेय को लेखाधिकारी के  साथ साथ सीईओ जिला पंचायत का अतिरिक्त प्रभार देना कहाँ तक उचित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here