क्या बस्ती विकास घोटाला मंत्री मीना सिंह पर पड़ सकता है भारी.? गोंगपा उम्मीदवार ककोड़िया ने भरी हुंकार,कहा चुनाव जीतने के बाद ही जेल से होंगे रिहा

0
1224
Umaria (संवाद)। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए उमरिया जिले की मानपुर विधानसभा से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के उम्मीदवार राधेश्याम ककोड़िया के चुनाव लड़ने की तश्वीर बिल्कुल साफ हो चुकी है।आज बुधवार को पेशी करने कोर्ट आये राधेश्याम ने एक बार फिर मानपुर क्षेत्र की मौजूदा विधायक और सरकार में मंत्री मीना सिंह के खिलाफ हुंकार भरी है। उसने मीना सिंह को कथित बस्ती विकास योजना में करोड़ो का भ्रस्टाचार किये जाने के मामले में घेरा है।

क्या बस्ती विकास घोटाला मंत्री मीना सिंह पर पड़ सकता है भारी.? गोंगपा उम्मीदवार ककोड़िया ने भरी हुंकार

दरअसल जिले की मानपुर विधानसभा से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के अधिकृत उम्मीदवार राधेश्याम ककोड़िया की चुनाव लड़ने की तश्वीर बिल्कुल साफ हो चुकी है और संभवतः 27 या 28 अक्टूबर को वह अपना नामांकन जिला जेल उमरियासे अपने वकील के माध्यम से रिटर्निंग ऑफिसर को भेजा जाएगा। इनके लिए ककोड़िया ने न्यायालय उमरिया में भी इस बावत पक्ष रखा है। न्यायालय के द्वारा भी उसे चुनाव में जाने के लिए कानून और शासन के निर्देशों के अधीन रहकर चुनाव में भाग लेने की समझाइश दी है।
क्या बस्ती विकास घोटाला मंत्री मीना सिंह पर पड़ सकता है भारी.? गोंगपा उम्मीदवार ककोड़िया ने भरी हुंकार
 
गोंगपा उम्मीदवार राधेश्याम ने आज बुधवार को जिला जेल से न्यायालय उमरिया पेशी करने पहुंचे थे जहां वह मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि उनकी पार्टी पूरी तैयारी में है। संभवतः 27 या 28 अक्टूबर को उनका नामांकन दाखिल कर दिया जाएगा।ककोड़िया ने कहा कि मानपुर क्षेत्र की जनता मौजूदा विधायक मीना सिंह परेशान है। पूरे मानपुर क्षेत्र में समस्याओं का अंबार है।मीना सिंह के द्वारा कथित बस्ती विकास योजना में करोड़ो रूपये का घोटाला किया गया है।
क्या बस्ती विकास घोटाला मंत्री मीना सिंह पर पड़ सकता है भारी.? गोंगपा उम्मीदवार ककोड़िया ने भरी हुंकार

ककोड़िया ने कहा कि विधानसभा चुनाव लड़ने की उनकी तैयारी बीते 6 महीने से की जा रही थी।मानपुर क्षेत्र की जनता उनके साथ है और इस चुनाव में उन्हें जनता का भरपूर समर्थन मिलेगा,वही गोंगपा के उद्योग प्रकोष्ठ के अध्यक्ष शब्बीर खान ने कहा कि हमारे उम्मीदवार की मानपुर क्षेत्र से अवश्य जीत होगी।और अब पार्टी के लोग राधेश्याम ककोड़िया को चुनाव जीतने और उनके विधायक बन जाने के बाद ही जेल से रिहा कराएंगे।

क्या बस्ती विकास घोटाला मंत्री मीना सिंह पर पड़ सकता है भारी.? गोंगपा उम्मीदवार ककोड़िया ने भरी हुंकार

बता दे कि बीते दिनों जिला मुख्यालय उमरिया के रानी दुर्गावती चौक में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रदर्शनकारियों के द्वारा हिंसा की गई थी।जिसमे पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों के साथ बर्बरतापूर्ण मारपीट किये जाने का मामला सामने आया था।इसी मामले में गोंगपा के पदाधिकारी राधेश्याम ककोड़िया सहित लगभग 50 प्रदर्शनकारियों के खिलाफ गंभीर धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया गया है।जिसके बाद से राधेश्याम ककोड़िया उमरिया जेल में बंद है और जेल से ही वह मानपुर से विधानसभा का चुनाव लड़ रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here