कलेक्टर डॉ केडी त्रिपाठी का नवाचार,जीवन रेखा उमरार नदी का पुर्नजीवन अभियान सुबह 8 बजे से, लोगों से श्रमदान में सहयोग की अपील

0
221
उमरिया (संवाद)। नगर की जीवन रेखा उमरार नदी के पुर्नजीवन का अभियान 19 फरवरी को प्रातः 8 बजे खलेसर घाट से प्रारंभ किया जाएगा। कलेक्टर डा कृष्ण देव त्रिपाठी ने नगर के जनप्रतिनिधियों , व्यापारियों, स्वयं सेवी संस्थाओं , पत्रकारों एवं शासकीय सेवकों से श्रमदान कार्यक्रम में भाग लेने की अपील की है। अभियान को अमली जामा पहनाने हेतु कलेक्टर की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें समाज के सभी वर्ग के लोगों से नदी के पुर्नजीवन के पुण्य कार्य में श्रमदान करनें की अपील की गई। बैठक में सीईओ जिला पंचायत इला तिवारी, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन , लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय , मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, तहसीलदार बांधवगढ, जिला समन्वयक जन अभियान, सहायक आयुक्त जन जातीय कार्य विभाग, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, जिला समन्वयक ग्रामीण आजीविका मिषन , नेहरू युवा केंद्र , खेल विभाग, एनसीसी, एन एस एस के समन्वयक ,कीर्ति सोनी, सूरज सोनी, अखिलेख त्रिपाठी, जय भारती साहू, नरेंद्र राय सहित स्वयं सेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कलेक्टर श्री त्रिपाठी ने कहा कि उमरार नदी के पुर्नजीवन हेतु सबसे पहले घाटों की सफाई की जाएगी । घाटों के किनारे अंकुर अभियान के तहत वृक्षारोपण किया जाएगा। इसके बाद नदी में आने वाले ड्रेनेज को रोकने के लिए ट्रीट मेंट किया जाएगा। अपषिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी। नदी के किनारे रहने वाले लोगों से समितियों का गठन कर नदी के संरक्षण का दायित्व सौंपा जाएगा। नदी के पानी के फ्लो को बढ़ाने हेतु जल संसाधन विभाग द्वारा व्यवस्था की जाएगी। जन अभियान परिषद , ग्रामीण आजीविका परियोजना , शहरी आजीविका परियोजना तथा नगर पालिका के माध्यम से जन जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को नदी में गंदगी नही करनें के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। बैठक में विभिन्न संस्थानों के प्रतिनिधियों द्वारा नदी के पुर्नजीवन हेतु सुझाव दिए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here